NDTVBusinessHindiMoviesCricketHealthFoodTechAutoSwasthதமிழ்বাংলাAppsTrainsArt
ADVERTISEMENT

बच्चों की नींद और व्यवहार में हो रहा है बदलाव, तो आज से ही उन्हें ये ड्रिंक देना बंद करें

हाल के अध्ययनों से यह जानकारी भी मिली है कि यह विकास कर रहे दिमागों पर चिंताजनक प्रभाव डालता है

बच्चों की नींद और व्यवहार में हो रहा है बदलाव, तो आज से ही उन्हें ये ड्रिंक देना बंद करें

बच्चों को एनर्जी ड्रिंक्स बेचने पर प्रतिबंध लगे : विशेषज्ञ

बच्चों और युवाओं को कैफीनयुक्त एनर्जी ड्रिंक्स बेचने पर प्रतिबंध लगाने की जरूरत है, ताकि उन्हें भविष्य में मोटापे और मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से बचाया जा सके. क्योंकि कैफीन दुनिया भर में सबसे ज्यादा प्रयोग किए जाने वाला साइकोएक्टिव ड्रग है, यह ध्यान और जागरूकता में इजाफा कर शारीरिक सक्रियता को बढ़ा देता है. ऐसा एक्सपर्ट्स का कहना है.

ब्रिटेन के रॉयल कॉलेज ऑफ पेडियाट्रिक्स एंड चाइल्ड हेल्थ (आरसीपीसीएच) के प्रोफेसर रसेल वाइनर का कहना है, "लेकिन इसके साथ ही कैफीन व्यग्रता को बढ़ाता है और नींद में रुकावट पैदा करता है, तथा यह बच्चों में व्यवहार संबंधी समस्याओं से जुड़ा हुआ है."

दही से बने प्रोडक्ट्स आपको लगते हैं Healthy? तो ज़रा इसे पढ़ें

हाल के अध्ययनों से यह जानकारी भी मिली है कि यह विकास कर रहे दिमागों पर चिंताजनक प्रभाव डालता है. वाइनर ने कहा कि यह चिंताजनक है, क्योंकि मनोवैज्ञानिक तनाव से जोखिम भरे व्यवहार का खतरा पैदा हो सकता है, जिसमें ड्रग का प्रयोग या अकादमिक प्रदर्शन में कमी शामिल है.

उन्होंने द बीएमजे जर्नल में प्रकाशित अपने पर्चे में कहा, "इसलिए बच्चों और युवाओं को कैफीनयुक्त एनर्जी ड्रिंक्स बेचने पर प्रतिबंध लगाना चाहिए, ताकि मोटापे और मानसिक स्वास्थ्य समस्या की जुड़वां महामारी को रोका जा सके."

बच्चों में तेज़ी से फैल रही हैं किडनी की ये 2 जानलेवा बीमारियां, यहां जानिए लक्षण

VIDEO: सेहत से खिलवाड़

Comments



फैशन, ब्‍यूटी, हेल्‍थ, ट्रैवल, प्रेग्‍नेंसी, पेरेंटिंग, सेक्‍स और रिलेशनश‍िप से जुड़े तमाम अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.

ADVERTISEMENT