NDTVBusinessहिन्दीMoviesCricketTechWeb StoriesHopFoodAutoSwasthLifestyleHealthবাংলাதமிழ்AppsArt
ADVERTISEMENT

Independence Day: घर या नौकरी चुनने की हो पूरी आजादी, पढ़िए 15 August पर राष्ट्रपति ने महिलाओं के लिए क्या कहा

स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के मौके पर भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Indian President Ram Nath Kovind) ने कहा कि महिलाओं...

15 August के मौके पर राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने महिलाओं के लिए आखिर क्या कहा...

स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) के मौके पर भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Indian President Ram Nath Kovind) ने कहा कि महिलाओं की आजादी को व्यापक बनाने में ही देश की आजादी की सार्थकता है. राष्ट्रपति ने कहा, "आजादी की सार्थकता घरों में माताओं, बहनों और बेटियों के रूप में, तथा घर से बाहर अपने निर्णयों के अनुसार जीवन जीने की उनकी स्वतंत्रता में देखी जा सकती है. उन्हें अपने ढंग से जीने का और अपनी क्षमताओं का पूरा उपयोग करने का सुरक्षित वातावरण तथा अवसर मिलना ही चाहिए.

15 August 2018 के दिन ऐसा होना चाहिए आपका Facebook और WhatsApp स्टेटस

15 August के मौके पर राष्ट्रपति कोविंद ने कहा कि महिलाएं अपनी क्षमता का उपयोग चाहे घर की प्रगति में करें या फिर उच्च शिक्षा-संस्थानों में महत्वपूर्ण योगदान देकर करें, उन्हें अपने विकल्प चुनने की पूरी आजादी होनी चाहिए.

कोविंद ने कहा, "एक राष्ट्र और समाज के रूप में हमें यह सुनिश्चित करना है कि महिलाओं को, जीवन में आगे बढ़ने के सभी अधिकार और क्षमताएं सुलभ हों. जब हम, महिलाओं द्वारा चलाए जा रहे उद्यमों या स्टार्ट-अप के लिए आर्थिक संसाधन उपलब्ध कराते हैं, करोड़ों घरों में एल.पी.जी. कनेक्शन पहुंचाते हैं और इस प्रकार, महिलाओं का सशक्तीकरण करते हैं, तब हम अपने स्वाधीनता सेनानियों के सपनों का भारत बनाते हैं."

89 साल की दादी ने खोली अपनी वेबसाइट, बनाती हैं ऐसी चीज़ और कमाती हैं डॉलरों में

कोविंद ने नौजवानों के बारे में कहा, "हमारे नौजवान, भारत की आशाओं और आकांक्षाओं की बुनियाद हैं. हमारे स्वाधीनता संग्राम में युवाओं और वरिष्ठ-जनों, सभी की सक्रिय भागीदारी थी. लेकिन, उस संग्राम में जोश भरने का काम विशेष रूप से युवा वर्ग ने किया था. स्वाधीनता की चाहत में, भले ही उन्होंने अलग-अलग रास्ते चुने हों, लेकिन वे सभी आजाद भारत, बेहतर भारत, तथा समरस भारत के अपने आदशरें और संकल्पों पर अडिग रहे." 

स्‍वतंत्रता दिवस 2018: देशभक्ति के वो 10 मैसेज, जिन्हें Facebook और WhatsApp पर जरूर भेजते हैं भारतीय

कोविंद ने कहा, "प्यारे देशवासियो, जो कुछ भी मैंने कहा है, क्या वह अब से दस-बीस वर्ष पहले, प्रासंगिक नहीं रहा होगा? कुछ हद तक, निश्चित रूप से यह सब प्रासंगिक रहा होगा. फिर भी, आज हम अपने इतिहास के एक ऐसे मोड़ पर खड़े हैं, जो अपने आप में बहुत अलग है. आज हम कई ऐसे लक्ष्यों के काफी करीब हैं, जिनके लिए हम वर्षों से प्रयास करते आ रहे हैं. सबके लिए बिजली, खुले में शौच से मुक्ति, सभी बेघरों को घर और अति-निर्धनता को दूर करने के लक्ष्य अब हमारी पहुंच में हैं. आज हम एक निर्णायक दौर से गुजर रहे हैं. ऐसे में, हमें इस बात पर जोर देना है कि हम ध्यान भटकाने वाले मुद्दों में न उलझें, और न ही निर्थक विवादों में पड़कर, अपने लक्ष्यों से हटें." 

VIDEO: 15 अगस्त से लागू होगी 5 लाख रुपये सालाना की स्वास्थ्य बीमा योजना

Comments



फैशन, ब्‍यूटी, हेल्‍थ, ट्रैवल, प्रेग्‍नेंसी, पेरेंटिंग, सेक्‍स और रिलेशनश‍िप से जुड़े तमाम अपडेट के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.

ADVERTISEMENT